इस छोटे से गाँव में बनती है कैंसर की चमत्कारी दवाँ, देश भर से रोजान आते हैं हज़ारों रोगी

 इस आर्टिकल में आज हम आपको कैन्सर और दूसरी बड़ीअसाध्य बीमारी के इलाज करने वाले वैद्य के बारे में बताएँगे। इसे बताने से पहले हम आपसे यह कहना चाहता है कि इस जानकारी को आप ज्यादा से ज्यादा शेयर करे ताकि दुसरे लोगो को भी इसका फायदा मिल सके। हम बात कर रहे हैं मध्यप्रदेश के बैतूल जिले के एक कान्हावाडी गांव की। कान्हावाडी गांव जिला बैतूल में केंसर का पक्का इलाज होता है और इसके अलावा यहाँ पर दूसरी भी अन्य बिमारियों का इलाज भी होता है आपको बता दें कि इन बिमारियों का इलाज करने वाले वैद्य का नाम बाबूलाल है और वो बेतुल जिले से 35 km घोडाडोंगरी और वहाँ से कान्हावाडी गांव लगभग 3km की दूरी पर है।

cancer-ki-dwaigoogle image
बता दें कि बाबूलाल जी से आप रविवार और मंगलवार सुबह 8 बजे से मिल सकते हैं लेकिन वह पर रोगियों की भीड़ होती है इसलिये इसलिए आपको वह एक दिन पहले रात में जाना पड़ सकता है। बता दें कि बैतूल जिले को सतपुड़ा के जंगलों की वजह से जाना जाता है, लेकिन यहाँ के जंगलो में ऐसी जड़ी बूटियां भी पायी जाती है जो कैंसर जैसी लाइलाज बीमारी को भी खत्म कर सकती हैं। इसलिए दवाई लेने के लिए यहाँ पर भारी संख्या में दूर दूर से लोग आते हैं। बता दें कि घोड़ाडोंगरी ब्लॉक के ग्राम कान्हावाड़ी में रहने वाले भगत बाबूलाल कई सालो से जड़ी-बूटी एवं औषधियों के द्वारा कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से लोगो को छुटकारा दिलवाने में मदद कर रहे हैं। सबसे खास बात यह है कि इस काम के लिए वो लोगो से एक रूपये भी नहीं लेते हैं। कैंसर बीमारी का इलाज करवाने के दिए पूरे देश भर से लोग यहाँ आते हैं।
बाबूलाल की दवाई से लोगो को फायेदा पहुचता है इसलिए हर रविवार और मंगलबार को यहाँ पर दिखाने वालों की भीड़ लगी रहती है। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने तक न रखे बल्कि दूसरों के साथ शेयर जरुर करें..
Share on Google Plus

About ankit manjariya

Engineer and Blogger.ankit has more than 10 year experience in computer field.he studied computer science and management.he is working online since 2012. you can also connect with him on facebook. ""